Site Search

Search by Keyword

Browse Keyword Tags By Alphabet

A   B   C   D   E   F   G   H   I   J   K   L   M   N   O   P   Q   R   S   T   U   V   W   X   Y   Z  

You are searching for "‘Think Big; Achieve Big’"   Total Result found: 15

इस शानदार सफलता और एक असामान्य प्रयास के लिए स्पष्ट रूप से मेरे बड़े भाई ने मुझे प्रेरित किया - वीर प्रताप सिंह (रैंक 92; सिविल सेवा परीक्षा 2018) (My elder brother stimulated apparently ordinary me to unusual effort that resulted in such a splendid success; says Veer Pratap Singh (AIR 92; CSE 2018))

On Thursday 1st August 2019  

उत्तर प्रदेश के दलपतपुर गाँव, जिला बुलंदशहर से आये 25 वर्षीय वीर प्रताप सिंह ने सिविल सेवा परीक्षा 2018 में शानदार सफलता प्राप्त करके अपने परिवार के सपनों को पूरा किया है और मेरिट-लिस्ट में 92 वीं रैंक हासिल की है.

यह वीर प्रताप की लगातार तीसरी मुख्य परीक्षा थी और अंत में सिविल सेवा परीक्षा 2018 के साथ इस सफलता की मिठास का स्वाद चखा.

उन्होंने वैकल्पिक विषय के रूप में दर्शनशास्त्र को चुना था.

 


Last Update Friday 2nd August 2019

हार ना मानने की अभिवृत्ति, कुछ अच्छा और बड़ा करने के हौसले ने मेरी सफलता में दिया महत्वपूर्ण योगदान - लखन सिंह यादव (रैंक 565, सिविल सेवा परीक्षा 2017 - हिंदी माध्यम से सफल) (Never say ‘NO’ attitude, guts to do something good and big made important contributions to my success; says Lakhan Singh Yadav (AIR 565; CSE 2017 – Success with Hindi Medium))

On Thursday 2nd August 2018  

लखन सिंह यादव ने अपने दृणविश्वास और मेहनत के साथ तैयारी में निरन्तरता बनाये रख अपने लक्ष्य को प्राप्त किया है और सिविल सेवा परीक्षा 2017 में शानदार सफलता अर्जित की है. अपनी तैयारी की रणनीतियों को सांझा करते हुए लखन ने तैयारी से जुड़े कई पहलुओं पर अपने विचार व्यक्त किये जिनका लाभ आप अपनी तैयारी की रणनीति बनाने में ले सकते हैं.

वैकल्पिक विषय: राजनीतिक विज्ञान एवम अंतरराष्ट्रीय संबंध

प्रयासों की संख्या: 4 (चार)


Last Update Thursday 2nd August 2018

सही दिशा में निरन्तर मेहनत का परिणाम है यह सफलता; साक्षी गर्ग (रैंक 350 सिविल सेवा परीक्षा 2017) (My Success is product of Hard Work in Right direction; says Sakshi Garg (AIR 350; CSE 2017))

On Sunday 22nd July 2018  

23 वर्षिय साक्षी गर्ग ने महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ से स्नातक के तुरन्त बाद सिविल सेवाओं में कैरियर बनाने का लक्ष्य रख सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी प्रारम्भ की.

साधारण शैक्षिक पृष्ठभूमि के बावजूद साक्षी ने एक स्वनिर्मित रणनीति के साथ मेहनत और दृण निश्चय दिखा सिविल सेवा परीक्षा 2017 में हिन्दी माध्यम से सफलता अर्जित की है.

साक्षी ने वैकल्पिक विषय के रूप में इतिहास विषय चुना

यह सफलता उन्हें दूसरे प्रयास में प्राप्त हुई.


Last Update Monday 29th July 2019

आत्मविश्वास, अध्ययन में निरन्तरता, सकारात्मक सोच और धैर्य बने अंतिम सफलता के कारक – विजय सिंह गुर्जर (रैंक 574 सिविल सेवा परीक्षा 2017) (Self confidence, consistency in Preparation, positive thinking and perseverance are factors that helped me succeed; says Vijay Singh Gurjar (AIR 574; CSE 2017))

On Sunday 22nd July 2018  

विजय सिंह गुर्जर ने वर्ष 2009 में शास्त्री (BA संस्कृत) राजस्थान संस्कृत विश्वविद्यालय, जयपुर से करने के पश्चात अपना संघर्ष शुरू किया और एक ‘सिपाही’ के पद से ‘सिविल सेवाओं’ में चयन एक पूरी कहानी बयां करता है.

अपनी मेहनत और असाधारण धैर्य के बल पर विजय सिंह गुर्जर ने सिविल सेवा परीक्षा 2017 में 574वाँ स्थान प्राप्त किया है.

उनका परीक्षा लेखन माध्यम हिन्दी रहा और वैकल्पिक विषय के रूप में उन्होंने अपने विषय संस्कृत भाषा का साहित्य चुना.


Last Update Thursday 18th July 2019

मैने कभी IAS बनने के बारे में सोचा तक नहीं था; बस कदम बढ़ाता गया, मंज़िले मिलती गईं - लखन सिंह यादव (सिविल सेवा परीक्षा 2017 में हिंदी माध्यम से सफल) (I never even thought about IAS; I just kept climbing stairs step-by-step to reach the destination – Lakhan Singh Yadav (Civil Services Examination 2017 Success with Hindi Medium))

On Wednesday 23rd May 2018  

लखन सिंह यादव (रेंक 565, सिविल सेवा परीक्षा 2017) ने अपने चौथे प्रयास में यह शानदार सफलता प्राप्त की है. उन्होंने वैकल्पिक विषय के रूप में राजनीतिक विज्ञान एवम् अंतरराष्ट्रीय संबंध विषय का चयन किया.

इस लक्ष्य तक पहुँचने की राह कठिन है और परिणाम अनिश्चित. इस तथ्य को समझते हुए लखन ने अपने लिये कैरियर विकल्प हेतु सिविल सेवा परीक्षा के साथ-साथ विभिन्न स्तर पर कई परीक्षाओं में भाग लिया और एक के बाद एक कदम बढ़ाते हुए कई परीक्षाओं में सफलता भी प्राप्त करते गए और अंततः एक ऐसी सफलता प्राप्त की जिसके बारे में पहले वह सोचने से भी डरते थे.


Last Update Thursday 18th July 2019

सही सोच से उचित निर्णय ले उसे सही साबित करने हेतु समग्र प्रयास ही, मेरी सफलता का आधार – विकास मीणा (हिन्दी माध्यम से सफल) (Taking Correct Decisions with Rational Thinking and my sincere efforts to justify them helped me succeed, says Vikas Meena (Success with Hindi Medium))

On Monday 21st May 2018  

जहाँ चारों ओर हिन्दी माध्यम के उम्मीदवार में निराशा और सफलता के प्रति संशय के भाव रहे; वहीं, विकास मीणा (रेंक 568, सिविल सेवा परीक्षा 2017) ने अपना आत्मविश्वास दिखाते हुए सिविल सेवा परीक्षा में शानदार सफलता प्राप्त की है. यह उनका दूसरा प्रयास था.

विकास अपने पहले प्रयास में भी सफल रहे थे और 881 वाँ रेंक प्राप्त हुआ जिससे उनका चयन भारतीय पुलिस सेवा में हुआ था और वह अभी ट्रेनिंग कर रहे थे.


Last Update Thursday 18th July 2019

अपनी गलतियों से सबक सीख अंततः सिविल सेवा परीक्षा में सफलता प्राप्त कर सका, आदित्य (हिन्दी माध्यम से सफल) (Learning from my mistakes, I could improve and succeed in Civil Services Examination says, Aditya (Success with Hindi Medium))

On Monday 21st May 2018  

राजस्थान के 25 वर्षीय आदित्य (रेंक 630, सिविल सेवा परीक्षा 2017) ने सिविल सेवा परीक्षा 2017 में शानदार सफलता प्राप्त की है. अपने प्रयासों में आदित्य ने वैकल्पिक विषय के रूप में इतिहास को चुना.

आदित्य की पूरी शिक्षा हिन्दी माध्यम से रही और वह अपने चौथे प्रयास में सफलता सुनिश्चित करने में सफल रहे.


Last Update Thursday 18th July 2019

एक समय में एक चीज़ पर ध्यान केन्द्रित करने से अविश्वसनीय परिणाम उत्पन्न करने की क्षमता प्राप्त होती है; अनु कुमारी (रैंक 2; सिविल सेवा परीक्षा 2017) (Focusing on one thing at a time has power to produce incredible result; says Anu Kumari (AIR 2; CSE 2017))

On Sunday 20th May 2018  

दिल्ली के हिंदू कॉलेज से भौतिकी (ऑनर्स) स्नातक, आई.एम.टी. नागपुर से एम.बी.ए., एक 4 वर्षीय बच्चे की मां, सोनीपत (हरियाणा) की अनु कुमारी सिविल सेवा परीक्षा 2017 में दूसरे स्थान पर हैं.

सिविल सेवा परीक्षा में शामिल होने का फैसला करने से पहले उन्होंने आई.सी.आई.सी.आई. प्रूडेंशियल, रेलिगेयर हेल्थ और अविवा लाइफ इंश्योरेंस जैसी कंपनियों के साथ काम किया था.

उन्होंने वैकल्पिक विषय के रूप में समाजशास्त्र के साथ अपने दूसरे प्रयास में इस शानदार सफलता को हासिल किया है.


Last Update Thursday 18th July 2019

सिविल सेवा परीक्षा में सफलता, अगली सफलता को प्रेरित करती है (Civil Services Exam: Success inspires Success)

On Sunday 20th May 2018  

27 अप्रैल 2018 को सिविल सेवा परीक्षा 2017 के नतीजों के साथ घोषित किए गए हर वर्ष की तरह इस बार 990 उम्मीदवारों को उनके ईमानदार प्रयासों के लिए पुरस्कृत किया गया है.

यू.पी.एस.सी. की अपेक्षाओं को पर खरा उतरने और अपनी योग्यता साबित करने के बाद, ये मेधावी और योग्य उम्मीदवार अंतिम रूप से सफल घोषित किए गये.


Last Update Sunday 20th May 2018

सिविल सेवा परीक्षा की गंभीरता से तैयारी किस स्तर पर करना शुरू कर देनी चाहिए? (At what stage, should one start preparing seriously about Civil Services Examination?)

On Sunday 20th May 2018  

जब कोई सिविल सेवा परीक्षा तैयारी शुरू करता है, तो पहला प्रश्न यह है कि क्या यह तैयार करने का सही समय है या मुझे कुछ और ज्ञान हासिल करना चाहिए और इसके बाद ही इसकी तैयारी करने का फैसला करूँ.


Last Update Sunday 20th May 2018

यू.पी.एस.सी. सिविल सेवा परीक्षा 2017 का परिणाम घोषित; प्रथम रैंक डुरीशेट्टी अनुदीप को. हिन्दी माध्यम से सर्वोच्च स्थान पर अनिरुद्ध कुमार (UPSC Civil Services Examination 2017 Results Announced;.1st rank goes to Durishetty Anudeep; Hindi Medium Topper is Aniruddh Kumar (AIR 146))

On Saturday 19th May 2018  

यू.पी.एस.सी. सिविल सेवा परीक्षा 2017 के परिणाम 27 अप्रैल 2018 को घोषित किए गए.

आयोग द्वारा विभिन्न सेवाओं पर नियुक्ति के लिए कुल 9 0 9 उम्मीदवार (750 पुरुष और 240 महिलाएं) की अनुशंसा की गई है. इस वर्ष, डुरीशेट्टी अनुदीप शीर्ष स्थान पर हैं, दूसरा रैंक अनु कुमारी को गया है और सचिन गुप्ता ने तीसरी रैंक हासिल की है.

हिन्दी माध्यम से सर्वोच्च स्थान पर अनिरुद्ध कुमार को गया है जिनका मैरिट-लिस्ट में 146वाँ रेंक है.


Last Update Saturday 19th May 2018

हिन्दी माध्यम से सिविल सेवा परीक्षा में सफलताः सदैव कुछ नया सीखने को तत्पर रहें (Success in Civil Services Examination: Always Remain Open to Learn Something New)

On Thursday 10th May 2018  

मेरे पिछले लेख सिविल सेवा परीक्षा में हिंदी माध्यम का प्रदर्शन और इसका भविष्य पर मिले अनेक संदेशों और प्रतिक्रियाओं का स्वागत और कुछ सफल उम्मीदवारों ने इसे सोशल मीड़िया पर सांझा भी किया इसके लिये आप सभी का धन्यवाद.

इसमें अधिकांश लोगो ने हिंदी माध्यम के उम्मीदवारों को इस परिस्थिति से सामना करने हेतु मार्गदर्शन और उन्हे क्या करना चाहिये, इस पर प्रकाश ड़ालने का सुझाव दिया.


Last Update Saturday 2nd June 2018

About Us

IASPASSION is all about success in Civil Services Examination. With an eye on coveted Indian Administrative Service aspiring youngsters chase their dreams and give their best to achieve success.
We are passionately working on making their journey uncomplicated and enjoyable and our mission is to dispel the myths and wrong notions that surround this big examination.
It is our continuous endeavor to bring in relevant information and inspiring stories that instill confidence and help you persevere as it is a fierce competition that sometimes requires just sticking to the GOAL.

 

The content on this site is IPR property of IASPassion.com and any reproduction of the same, in part or as a whole, will call for legal action under copyright act.

© IASPassion 20018 ---- 2020